YAIF

“यूथ अगेंस्ट इंजस्टिस फाउंडेशन” द्वारा शुरू की गई “कोविड हेल्पलाइन”

COVID-19 महामारी दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है, और COVID संसाधनों की कमी और चारों ओर गलत जानकारी के प्रसार के कारण कई निर्दोषों का जीवन दांव पर लगा हुआ है। इसे देखते हुए, “युथ अगेंस्ट इंजस्टिस फाउंडेशन” (YAIF) ने अपने मिशन “यूथ अगेंस्ट रेप” के तहत इस महामारी में जरूरतमंदों की मदद के लिए “कोविड हेल्पलाइन” की शुरुआत की है ।

“यूथ अगेंस्ट रेप”, YAIF के तहत एक मिशन का रूप है, जो रेप मुक्त भारत के सपने को साकार करने के लिए काम करता है, इस लक्ष्य को पाने के लिए एक साइक्लिंग अभियान भी जारी है जिसका उद्देश्य 50,000 + किलोमीटर को पूरा करना है जिसमें 10,000+ किमी को पूरा कर लिया गया है। वर्तमान में चल रही महामारी, COVID 19 को ध्यान में रखते हुए साइकिल अभियान और मिशन यूथ अगेंस्ट रेप को कुछ समय के लिए स्थगित कर दिया गया है।

संगठन के स्वयंसेवक दिन-रात कोविड से पीड़ित लोगो की मदद करने के लिए सारी जरूरतमंद जानकारियों को जुटाने का काम कर रहे हैं, और कोविड संसाधन की सभी जानकारियों को किसी अन्य को भेजने से पहले खुद जांच रहे है, जिससे पीड़ित के परिजनों को परेशानी न हो साथ ही गलत जानकारी के प्रसार पर रोक लगाई जा सके। टीम सभी जरूरत की चीजे जैसे की, रेमेडेसिविर, टोसीलीज़ुमब, फेमीपिरवीर, ऑक्सीजन सिलिंडर, वेंटीलेटर बेड, आदि की मदद लोगो को मुहैया करा रहे हैं। टीम यूथ अगेंस्ट रेप अपने सोशल मीडिया हैंडल इंस्टाग्राम (@youth_against_rape), ट्विटर (@yaifoundation), और टेलीग्राम (यूथ अगेंस्ट रेप) के माध्यम से लोगो तक पुख्ता जानकारी दे रहा है ताकि जितना भी संभव हो लोगो की जान बचाई जा सके।

टीम इंस्टाग्राम पर और ट्विटर पर सत्यापित जानकारियों की पोस्ट डालती है, और आवश्यकताओं एवम जानकारियों को साझा भी करती है। जहां भी यूथ अगेंस्ट रेप / यूथ अगेंस्ट इंजस्टिस फाउंडेशन का उल्लेख किया गया है, उन्हें संगठन द्वारा पोस्ट / ट्वीट को रीपोस्ट / रीट्वीट किया गया है वहा जल्द से जल्द मदद पहुंचाने का प्रयास किया जाता है।

कठिनाई और आवश्यकता के इस समय के दौरान, टीम यूथ अगेंस्ट रेप के इस कदम से पता चलता है कि अगर लोग एक साथ एक जुट होकर जिम्मेदारी से कार्य करते हैं तो हर कठिनाई का डटकर मुकाबला करना संभव है। “यूथ अगेंस्ट इंजस्टिस फाउंडेशन” के सभी प्रयास लगातार दूसरों को प्रेरित करते हैं क्योंकि वे हमेशा समाज के लिए निस्वार्थ भाव से काम करने के लिए एक उदाहरण के रूप में खड़े होते हैं!

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *